Search Suggest

नाईट कर्फ्यू का पालन न करने पर डीएम को आया गुस्सा

पश्चिम त्रिपुरा से एक वीडियो खूब वायरल हो रहा है जिसमें DM साहब बहुत गुस्से में भाषा की मर्यादा तक भूल गए तो आइये जानते है की क्या मामला है

 देश मैं कोरोना काल की दूसरी लहर ने पुरे देश के जनजीवन को अस्त-व्यस्त कर दिया है और इसी कोरोना काल मे जिन लोगों की शदियां तय हुई है वह पूरी कोरोना गाइडलाइन के तहत अपने अपने सारे कार्यक्रम कर रहे है पर इसी बीच पश्चिम त्रिपुरा से एक वीडियो खूब वायरल हो रहा है जिसमें DM साहब बहुत गुस्से में भाषा की मर्यादा तक भूल गए तो आइये जानते है की क्या मामला है 

नाईट कर्फ्यू  का पालन न करने पर डीएम को आया गुस्सा,डीएम शैलेश यादव
ALSO READ:-   
 कैसे चेक करें आपके बैंक अकाउंट में एलपीजी सब्सिडी आ रही है?

जिन लोगों ने अपनी शादी में Corona Guideline का ख्याल रखा है तो उनकी शादी तो बिना बाधा के हो गई, लेकिन जिन्होंने प्रशासन की आँखों में धूल झोकने की कोशिश की, वे खुद प्रशासन के हत्ते चढ़ गए । 

जी हाँ पश्चिम त्रिपुरा के अगरतला में  एक मैरि‍ज हाल में शादी की बड़ी धूम-धाम से  पार्टी चल रही थी।

 इसी बीच सिंघम style में वहाँ पहुंच गए डीएम शैलेश यादव ने देखा की शादी के समारोह में Corona Guideline के तय  नियमों से ज्यादा लोगों की  भीड़ उपस्थित  थी. नाइट कर्फ्यू लगे होने के कारण भी शादि की पार्टी देर रात तक चल रही थी। 

डीएम ने  शादी में मौजूद बरातियों की भीड़ में कुछ  पुलिसकर्मियों को देखा तो डीएम शैलेश कुमार यादव भड़क गए। पहले तो बैंड वालों को वहां से भगाया. इसके बाद पुलिस वालों पर आफत टूट पड़ी. मौके पर  स्थित मौजूद अफसर की फोटो खींची औरखूब खरी-खोटी सुना दी

डीएम शैलेश यादव तो इतने गुस्से में आग बबूला थे क‍ि भाषा भी मर्यादा की सीमा को  भी पार करने ललगे  डीएम साहब के इस रौद्र रूप से पुलिस वालों को जैसे सांप ने सूंघ लिया हो चुप चाप डीएम की बातों को सुनते रहे। 

डीएम ने मैरिज हॉल  से ही आला अधिकारियों से फोन पर बातचीत की और इस कार्यक्रम में सहयोग करने वाले  व् उपस्थित पुलिसकर्मियों को सस्पेंड करने की बात भी कही  

वही दूल्हे  दुल्हन के साथ सात फेरों के सपने देख रहे थे लेकि‍न पहुंच गए थाने।पश्चिम त्रिपुरा के डीएम दो अलग-अलग विवाह समारोहों पर छापा मारते हुए दिखाई दे रहे हैं, जहां कोविद -19 मानदंडों का पालन  नहीं किया जा रहा था।

पश्चिम त्रिपुरा के डीएम ने सोमवार को कोविड  -19 प्रतिबंध का उल्लंघन करने के बाद अब मैरिज हॉल को सील कर दिया और संचालन से रोक लगा दी।

नाईट कर्फ्यू  का पालन न करने पर डीएम को आया गुस्सा

जो वीडियो वायरल हुआ है, उसमें पश्चिम त्रिपुरा के जिला मजिस्ट्रेट शैलेश कुमार यादव ने दो मैरिज हॉलों पर छापा मारा है और  वहां उन्होने देखा किया COVID नियमों की धज्जियां उड़ाई जा रही है 

तो उन्होने कार्यकर्म में उपस्थित सभी मेहमानों को वहां से जाने को कहा क्योकि कोविद के मानदंडों का उल्लंघन कर रहे थे।

डीएम ने पुलिस को महामारी रोग अधिनियम, आपदा प्रबंधन अधिनियम और रात के कर्फ्यू का उल्लंघन करने के लिए दूल्हा और दुल्हन सहित पूरी भीड़ पर केस करने का भी निर्देश दिया।

उन्होंने प्रशासन के साथ सहयोग नहीं करने के लिए पुलिस के खिलाफ असंतोष भी व्यक्त किया। यादव ने सरकार से पूर्वी अगरतला पुलिस स्टेशन के प्रभारी अधिकारी (ओसी) और कुछ ऑन-ड्यूटी पुलिस कर्मियों को निलंबित करने की सिफारिश की है, जिन्हें जिला मजिस्ट्रेट के आदेश की अवहेलना करते देखा गया था।

वीडियो में एक बिंदु पर, डीएम को दुल्हन को मंच से उतरने के लिए भी कहा गया, जबकि उसके अधिकारियों ने मेहमानों को विवाह मंडप से बाहर निकाल दिया।

एक रिपोर्ट के अनुसार, हर दिन औसतन सौ संक्रमित लोगों का पता लगाया जा रहा है, जिससे राज्य मैं कोरोना मरीजों की संख्या में लगाता बढ़ोतरी हो रही है जो सरकार और प्रसासन के लिए चिंता का विषय बनी हुई है ।

त्रिपुरा ने बढ़ते संक्रमण के मद्देनजर अगरतला नगर निगम (एएमसी) क्षेत्रों में 22 से 30 अप्रैल तक एक रात के कर्फ्यू की घोषणा की थी। कर्फ्यू रात 10 बजे से सुबह 5 बजे तक रहेगा।



Rate this article

एक टिप्पणी भेजें