Type Here to Get Search Results !

Motivational speech: गुस्सा करिए , लेकिन कड़वाहट मत लाइए

Motivational speech: गुस्सा करिए , लेकिन कड़वाहट मत लाइए: गुस्सा आना चाहिए , लेकिन उसमें कड़वाहट नहीं होनी चाहिए । ये कैंसर की तरह होती है । ये इंसान को निगल लेती है । -माया एंजेलो , अमेरिकी लेखक 

Motivational speech: गुस्सा करिए , लेकिन कड़वाहट मत लाइए

motivational speech in hindi , गुस्से पर कट्रोल कैसे करें ?,
Motivational speech: गुस्सा करिए , लेकिन कड़वाहट मत लाइए

अगर आपके अंदर गुस्सा नहीं है , मतलब आप पत्थर हैं । आपको गुस्सा आना चाहिए , लेकिन उसमें कड़वाहट नहीं लानी चाहिए । कड़वाहट कैंसर की तरह होती . है ।

 

ये इंसान को निगल लेती है । जब मैं साढ़े सात साल की थी , मेरे साथ दुष्कर्म हुआ । ज्यादती करने वाला व्यक्ति परिवार के करीब था । मुझे हॉस्पिटल में भर्ती करने की जरूरत पड़ी । उसे जेल हुई और उसी दिन किसी कारण से उसकी मौत हो गई ।

उस छोटी से उम्र में अपनी तकलीफ के बाद भी मुझे लगा कि मैं उसकी मौत के लिए जिम्मेदार हूं , क्योंकि मैंने उसका नाम पुलिस के सामने लिया था । उस मनोस्थिति में मैंने बात करना बंद कर दिया । और पांच सालों तक खामोश रही । 

लेकिन उन पांच सालों में मैंने लाइब्रेरी में रखी लगभग हर किताब पढ़ डाली । मुझे शेक्सपीयर के सारे नाटक याद हो गए । ढेर सारे लेखकों का काम , कविताएं स्मृतियों में कैद हो गई । जब मैंने बोलने के बारे में सोचा , मेरे पास कहने के लिए बहुत कुछ था । और जो कहना चाहती थी , उसे बयां करने के भी कई तरीके मेरे सामने थे । 

शारीरिक प्रताड़ना , वो भी कम उम्र में न सिर्फ शरीर बल्कि मन को भी तोड़कर रख देती है । जीवन के प्रति निराशा भर जाती है । इससे ज्यादा त्रासद और कुछ नहीं हो सकता , क्योंकि कम उम्र का पीड़ित कुछ नहीं जानने वाली स्थिति से किसी पर भी विश्वास नहीं करने वाली स्थिति में पहुंच जाता है । 

मेरे मामले में , मेरी खामोशी ने मुझे बचा लिया । और मैं इंसान के विचारों से लेकर इंसान की मायूसी और खुशी की कल्पना करने लगी थी । मैं जितना मुमकिन हो हमेशा हंसती - मुस्कुराती रहती हूं । 

जो लोग हंसते नहीं और गंभीर होने का दिखावा करते हैं , मैं उन पर भरोसा ही नहीं कर पाती । मेरा मानना है कि अगर आप गंभीर हैं , तो कुछ बदलने की कोशिश कर रहे हैं । अगर आप उस हालात को पसंद नहीं करते , तो उसे बदलने की कोशिश करते हैं । 

इसे बदलने के लिए जो भी करना चाहें , करें । और अगर आपका हर काम सपाट रूप से मुंह के बल गिरता है और कुछ भी नहीं बदल पाते । तब इसके बारे में अपने सोचने का तरीका बदलें । हालातों को देखने का नजरिया बदलें ।

इस दौरान शायद चीजें बदलने का कोई नया रास्ता मिल जाए ! अक्सर लोग आपको वैसी ही प्रतिक्रिया देने की कोशिश करते हैं , जिस सीमा या स्तर तक जाकर आप उन्हें सम्मान देते हैं या बात करते हैं । इसलिए अगर आप कहते हैं कि क्या आप खूबसूरत नहीं है ? आप सुंदर हैं । 

आप काफी खुशमिजाज हैं । ऐसे में भले ही वे ऐसे ना हों , लेकिन आपके लिए वो उस स्तर तक आकर प्रतिक्रिया देते हैं । दूसरी ओर अगर आप किसी को कमतर कहते हैं । आज नहीं तो कल , वो व्यक्ति भी आपको वैसी ही ठंडी प्रतिक्रिया देता है । विभिन्न भाषणों से

ये भी देखें - 

motivational speech | लक्ष्य तय करके आप अपना आत्मविश्वास बढ़ा सकते हैं

नेल्सन मंडेला- Motivational thought | खुद पर काबू रखना अच्छे इंसानों की पहचान है

माइकल फेल्प्स | motivational speech | माइकल फेल्प्स के सूत्र

Thanks for visiting Khabar daily update. For more मोटिवेशनस्टोरी, click here.

एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad

Hollywood Movies