Type Here to Get Search Results !

उत्तराखण्ड सरकार ने कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए चार धाम यात्रा की रद्द


उत्तराखण्ड सरकार ने कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए चार धाम यात्रा की रद्द।उत्तराखंड सरकार ने अहम् फैसला लेते हुए गत वर्ष होने वाले चार धाम यात्रा को राज्य में तेजी से फैलते हुए कोरोना के संकट को ध्यान में रखते हुए चार धाम यात्रा रद्द कर दी है। 

corona guideline,uttarakhand corona
उत्तराखण्ड सरकार ने कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए चार धाम यात्रा की रद्द 


राज्य के मुख्यमंत्री श्री तीरथ सिंह रावत ने बताया कि इस वर्ष लोगों को कोरोना के कारण चार धाम यात्रा करने की अनुमति नहीं दी जाएगी, लेकिन मंदिरों के पुजारी अनुष्ठान करेंगे और केंद्र सरकार द्वारा जारी कोविड नियमोँ को ध्यान में रखते हुए ये पूजा होगी,किसी भी यात्री को वहां जाने की अनुमति नहीं मिलेगी । 

चार धाम यात्रा इस साल 14 मई को शुरू होने वाली है और जिसके लिए उत्तराखण्ड राज्य सरकार ने पहले धार्मिक यात्रा में भाग लेने वाले तीर्थयात्रियों के लिए COVID Guideline जारी की थी।

और उत्तराखंड सरकार ने भक्तों के लिए अन्य दिशानिर्देशों के बीच नकारात्मक आरटी-पीसीआर परीक्षण रिपोर्ट अनिवार्य कर दी थी।नेगेटिव रिपोर्ट के बिना चार धाम यात्रा की अनुमति नहीं थी।

लेकिन कोरोना के बढ़ते मामलों को देखते हुए इस साल चारधाम यात्रा को उत्तराखंड सरकार ने रद्द कर दिया है। सूबे के मुखिया तीरथ सिंह रावत ने यह जानकारी मीडिया को दी है। 

आपको बता दें कि आज गुरुवार 29 अप्रैल को इस संबंध में उत्तराखंड के पर्यटन मंत्री सतपाल महाराज की अध्यक्षता में बैठक की गई थी। और इस बैठक मं उत्तरखंड़ में कोरोना के बढ़ते हुए मामलों को देखते हुई सरकार ने ये महत्वपूर्ण फैसला लिया है । 

बैठक के बाद देवस्थानम बोर्ड के मीडिया प्रभारी डॉ.हरीश गौड़ ने बताया कि मई में शुरू होने वाली चारधाम यात्रा को लेकर सरकार की फैसला लिया गया है।

मुख्यमंत्री हरक सिंह रावत ने बताया  कि चारों धाम के कपाट अपने तय समय पर ही खुलेंगे। परन्तु केवल पुरोहित और पुजारी  ही सिर्फ चारों धामों में पूजा अर्चना करेंगे।  किसी भी यात्रियों को वहां जाने की अनुमति नहीं मिलेगी।

आपको बता दे की केदारनाथ धाम के कपाट 17 मई को मेष लग्न में सुबह पांच बजे को खोले जाएंगे।  और भगवान बद्रीनाथ के कपाट श्रद्धालुओं के लिए 18 मई प्रातः 4:15 पर खोले जाने थे  गाडू घड़ा यात्रा 29 अप्रैल को सुनिश्चित की गई है ।  

गंगोत्री धाम व यमनोत्री धाम के कपाट 14 मई को खुलने है ।

यह निर्णय ऐसे समय में आया है जब उत्तराखंड ने बुधवार को 6,054 नए COVID-19 मामलों में उच्चतम एक दिन में रिकॉर्ड उच्चतम दर्ज की, पुरे प्रदेश में  1,68,616कोरोना मरीजों की संख्यां हो गयी है, जबकि एक दिन में 108  लोगों ने कोरोना के कारण अपनी जान गवाई है,पुरे राज्य में कोरोना से मरने वालों की संख्या अब  2,417 तक पहुंचा गई है।


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad

Hollywood Movies