Type Here to Get Search Results !

World Elder Abuse Awareness Day 2023: तिथि, इतिहास, थीम, महत्व और अन्य महत्वपूर्ण जानकारी

World Elder Abuse Awareness Day, World Elder Abuse Awareness Day 2023

World Elder Abuse Awareness Day: विश्व बुजुर्ग दुर्भाग्य जागरूकता दिवस (World Elder Abuse Awareness Day) हर साल 15 जून को मनाया जाता है। इस दिन को विश्वभर में बुजुर्गों के साथ होने वाले अन्याय और उन पर होने वाली हिंसा के खिलाफ जागरूकता फैलाने के लिए समर्पित किया जाता है। इस लेख में, हम विश्व बुजुर्ग दुर्भाग्य जागरूकता दिवस 2023 के बारे में तिथि, इतिहास, थीम, महत्व और अन्य महत्वपूर्ण जानकारी पर चर्चा करेंगे।


बुजुर्गों की सेवा और संरक्षण मानव समाज के लिए महत्वपूर्ण है। हालांकि, कई बार बुजुर्गों के साथ अन्याय होता है और उन्हें दुर्भाग्य का सामना करना पड़ता है। यह दुर्भाग्य विभिन्न रूपों में हो सकता है, जैसे शारीरिक, मानसिक, वित्तीय, और सामाजिक दुर्भाग्य। विश्व बुजुर्ग दुर्भाग्य जागरूकता दिवस इस अन्याय के खिलाफ जागरूकता फैलाने और इसे रोकने के लिए एक माध्यम है।


Read Also: World Elder Abuse Awareness Day Quotes


World Elder Abuse Awareness Day 2023: Date, History, Theme, Significance, and Other Important Information


बुजुर्ग शोषण क्या है? 


बुजुर्ग शोषण व्यक्ति के वर्चस्व, मानसिक स्थिति और धन को नुकसान पहुंचाने की प्रक्रिया है। इसमें बुजुर्ग व्यक्ति पर वारदात, उत्पीड़न, बुरी व्यवहार, वित्तीय धोखाधड़ी, और उसके अधिकारों का उपहास शामिल हो सकता है। बुजुर्ग शोषण बढ़ती उम्र के लोगों के लिए एक गंभीर समस्या है और यह उनकी खुदरा, शारीरिक और मानसिक संतुलन पर दुर्भाग्यपूर्ण प्रभाव डालता है।

World Elder Abuse Awareness Day Date


वर्ल्ड एल्डर एब्यूज अवेयरनेस डे हर साल 15 जून को मनाया जाता है। यह दिन विश्वभर में बुजुर्गों के साथ होने वाले अन्याय के खिलाफ एक साझा मंच  बनाने के लिए निर्धारित किया गया है। इस दिन को विभिन्न गतिविधियों, संगोष्ठियों, और जागरूकता प्रदर्शनों के माध्यम से मनाया जाता है।

World Elder Abuse Awareness Day History


वर्ल्ड एल्डर एब्यूज अवेयरनेस डे,  (WEAAD) प्रत्येक वर्ष 15 जून को मनाया जाता है। 2006 में इंटरनेशनल नेटवर्क फॉर प्रिवेंशन ऑफ एल्डर एब्यूज (INPEA) द्वारा शुरू किया गया था। दिसंबर 2011 में अपनाए गए एक प्रस्ताव के बाद WEAAD को 2011 में संयुक्त राष्ट्र महासभा द्वारा आधिकारिक तौर पर मान्यता दी गई थी। इसके पश्चात, यह एक वैश्विक जागरूकता अभियान बन गया है और हर साल मनाया जाता है। यह दिन बुजुर्गों के साथ होने वाली हिंसा, उत्पीड़न, और अन्य अन्यायों के खिलाफ एक आवाज उठाने का माध्यम है।

World Elder Abuse Awareness Day Theme 2023


विश्व बुजुर्ग दुर्भाग्य जागरूकता दिवस 2023 की थीम "क्लोजिंग द सर्कल: एड्रेसिंग जेंडर-बेस्ड वॉयलेंस (जीबीवी) इन ओल्ड एज पॉलिसी, लॉ एंड एविडेंस-बेस्ड रिस्पॉन्सेस"।है। इस थीम के तहत, विभिन्न गतिविधियों और कार्यक्रमों का आयोजन किया जाता है जो बुजुर्गों के अधिकारों की संरक्षा और सम्मान को बढ़ावा देते हैं। इस दिन को बुजुर्गों की आवाज सुनने और उन्हें योग्यता, स्वतंत्रता, और सम्मान के साथ जीने का संकल्प लिया जाता है।

World Elder Abuse Awareness Day Significance


विश्व बुजुर्ग दुर्भाग्य जागरूकता दिवस का महत्वपूर्ण मकसद बुजुर्गों के साथ होने वाले अन्याय के खिलाफ लड़ाई में जनसंपर्क को बढ़ाना है। यह दिवस एक मंच प्रदान करता है जहां बुजुर्गों की मांगों, समस्याओं, और जरूरतों को सुना जा सकता है। इसके साथ ही, इस दिन को बुजुर्गों के बारे में जागरूकता फैलाने का एक महत्वपूर्ण मौका भी माना जाता है। यह एक मौका है कि हम वृद्धों के साथ अच्छी तरह से व्यवहार करें, उनकी सुरक्षा के बारे में चिंता करें और उनकी आवश्यकताओं को पूरा करने के लिए सक्रिय रूप से काम करें।


वर्तमान में दुर्भाग्य जागरूकता की स्थिति


वर्तमान में, दुर्भाग्य जागरूकता बुजुर्गों के लिए एक महत्वपूर्ण मुद्दा है। यह अन्याय उनकी सुरक्षा, आत्मसम्मान, और अधिकारों को प्रभावित करता है। बुजुर्गों को अकेलापन, उपेक्षा, धार्मिक और सामाजिक विभेद, और मानसिक या शारीरिक हिंसा का सामना करना पड़ता है। यह अन्याय समाज के लिए भी एक महामारी के रूप में साबित हो रहा है।


वृद्धावस्था शोषण के पीछे का कारण


वृद्धावस्था शोषण के कई कारण हो सकते हैं। यह सामाजिक, आर्थिक, और मानसिक तनाव के कारकों से प्रभावित हो सकता है। अकेलापन, परिवार से छुटकारा, धन की कमी, और स्वास्थ्य समस्याएं वृद्ध लोगों को वंचित कर देती हैं और उन्हें संघर्ष करने के लिए मजबूर कर देती हैं। इसलिए हमें इस महत्वपूर्ण दिन को याद रखना चाहिए और समाज के भागीदारी में वृद्धावस्था की देखभाल करने का संकल्प लेना चाहिए।


वृद्धावस्था शोषण से निपटने के लिए महत्वपूर्ण कदम


वृद्धावस्था शोषण को रोकने और इससे निपटने के लिए हमें कुछ महत्वपूर्ण कदम उठाने चाहिए। यहाँ हम आपके सामने कुछ महत्वपूर्ण कदम प्रस्तुत करते हैं:


1. जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन करें


वृद्धावस्था शोषण के खिलाफ जागरूकता फैलाने के लिए हमें संघटित कार्यक्रमों का आयोजन करना चाहिए। इन कार्यक्रमों में संबंधित संगठनों, स्वयंसेवी संगठनों, और सरकारी अधिकारियों को शामिल किया जा सकता है जो वृद्धावस्था के मुद्दों पर चर्चा कर सकते हैं और उन्हें समाधान निकालने में मदद कर सकते हैं।


2. संबंधित कानूनों की पालना करें


सरकार के द्वारा बनाए गए वृद्धावस्था के संबंधित कानूनों की पालना करना भी अत्यंत महत्वपूर्ण है। हमें वृद्ध लोगों के अधिकारों की सुरक्षा करने और उन्हें सम्मानपूर्वक और न्यायपूर्ण तरीके से व्यवहार करने की जरूरत है। यदि हम वृद्धावस्था शोषण के मामलों में सख्ती से कानून का पालन करेंगे, तो हम समाज में इसके खिलाफ संदेश भेज सकते हैं।


3. शिक्षा और जागरूकता बढ़ाएं


वृद्धावस्था शोषण को रोकने के लिए हमें वृद्ध लोगों को उनके अधिकारों के बारे में जागरूक करना और उन्हें संरक्षण के बारे में शिक्षा देना चाहिए। यहाँ परिवारों, स्कूलों, कॉलेजों, और समुदायों में शिक्षा और जागरूकता कार्यक्रमों का आयोजन किया जा सकता है।


4. सामाजिक संगठनों की मदद लें


सामाजिक संगठनों को वृद्धावस्था शोषण के खिलाफ लड़ाई में मदद करना भी महत्वपूर्ण है। हमें इन संगठनों का समर्थन करना चाहिए जो वृद्धावस्था की देखभाल करते हैं और वृद्ध लोगों को समर्थन प्रदान करते हैं। इन संगठनों के साथ मिलकर हम वृद्धावस्था को आवागमन करा सकते हैं और उन्हें उच्चतम स्तर की देखभाल और सम्मान प्रदान कर सकते हैं।


इन कदमों के माध्यम से हम सब मिलकर वृद्धावस्था शोषण के खिलाफ लड़ाई में एक सकारात्मक परिवर्तन ला सकते हैं। यह हमारी सामाजिक जिम्मेदारी है और हमें संघर्ष करना चाहिए ताकि हमारे समाज में सभी वृद्ध लोगों को आदर्श मिले और उन्हें गर्व का एहसास हो।


निष्कर्ष


विश्व बुजुर्ग दुर्व्यवहार जागरूकता दिवस एक महत्वपूर्ण अवसर है जो हमें बुजुर्गों के साथ होने वाले अन्याय के खिलाफ लड़ाई में संजोजित करता है। हमें उनके सम्मान और सुरक्षा के प्रति संवेदनशील बनना चाहिए और उनके अधिकारों की संरक्षा करनी चाहिए। इस दिवस को मनाने के माध्यम से हम एक समर्पित समाज बनाने की दिशा में कदम बढ़ा सकते हैं।


Read More: 




एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.