-->

Notification

Iklan

Iklan

उत्तराखंड में हरिद्वार, देहरादून, हल्द्वानी में 12वीं तक के स्कूल 30 अप्रैल तक रहेंगे बंद

शनिवार, अप्रैल 10 | अप्रैल 10, 2021 WIB Last Updated 2021-07-28T11:05:42Z

 कोरोना के बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए उत्तराखंड सरकार ने कई जिलों में12वीं तक के स्कूलों को 30 अप्रैल तक बंद कर दिया गया है, कोरोना उत्तराखंड में भी धीरे-धीरे अपने पैर पसार रहा है इसे देखते हुए उत्तराखंड सरकार ने यह फैसला लिया है।

सीएम तीरथ सिंह रावत के अध्यक्षता में शुक्रवार को हुए महत्वपूर्ण मीटिंग में यह फैसला लिया गया । अभी हरिद्वार, देहरादून, हल्द्वानी, में12वीं तकके स्कूलों को बंद करने के आदेश दिए गए हैं।  

Lockdown
Schools-up-to-12th-in-Haridwar-Dehradun-Haldwani-in-Uttarakhand-will-remain-closed-till-April-30

कैबिनेट ने यह फैसला लिया है कि हरिद्वार जिले के सभी स्कूलों के साथ देहरादून जिले के चकराता व कालसी ब्लॉक को छोड़कर तथा नैनीताल नगर पालिका व हल्द्वानी नगर निगम क्षेत्र के 12वीं तक के स्कूल 30 अप्रैल तक बंद रहेंगे वह कक्षाओं में ऑनलाइन पढ़ाई होगी।  

देश के अन्य राज्यों की तरह उत्तराखंड में भी रात्रि 10:00 बजे से सुबह 5:00 बजे तक नाइट कर्फ्यू लगाया जाएगा । मुख्यमंत्री तीरथ सिंह रावत की अध्यक्षता में शुक्रवार को हुए मीटिंग में यह फैसला लिया गया, और अगर कोई नाइट कर्फ्यू का उल्लंघन करते हुए पाया जाएगा तो उस पर सख्त कार्रवाई की जाएगी । देहरादून हरिद्वार वह नैनीताल में कुछ समय से कोरोना के पॉजिटिव रिपोर्ट आने के कारण सरकार ने यह फैसला लिया है।  आपको बता दें कि उत्तराखंड में कोरोना तेजी से फैल रहा है इसे देखते हुए सरकार ने यह फैसला लिया है । 

MUST READ:-

आईआईटी रुड़की में कोरोना के बढ़ते हुए मामलों को देखते हुए कार्यालय को 15 अप्रैल तक बंद कर दिया गया है।  तथा सैनिटाइजेशन का कामआगे किया जाएगा । आईआईटी रुड़की में 90 छात्र फैकेल्टी व परिवार के सदस्य कोरोनावायरस की चपेट में आने से रिपोर्ट पॉजिटिव आई है । 

कोरोना पॉजिटिव रिपोर्ट आने से आईआईटी रुड़की में सरकार की ओर से जारी किए गए गाइडलाइन का पूरी तरह से पालन किया जा रहा है । आपको बता दें कि लोक डाउन के बाद धीरे-धीरे छात्रों का वापस आना शुरू हुआ था,और उनकी पढ़ाई सुचारू रूप से चल रही थी परंतु 90 छात्रों के पॉजिटिव रिपोर्ट आने के बाद कार्यालय को 15 अप्रैल व कक्षाओं को बंद किया जाने क्या आदेश दिया गया। 

×
Berita Terbaru Update