Search Suggest

breastfeeding mother: स्तनपान मां को हृदयरोग , कैंसर और डायबिटीज जैसी कई बीमारियों से बचाता है

क्या आप जानते हैं, स्तनपान मां को हृदयरोग , कैंसर और डायबिटीज जैसी कई बीमारियों से बचाता है पहला दूध इम्युनिटी देता है , 6 सप्ताह बाद शिशु को मिलती

Breastfeeding Mother: क्या आप जानते हैं, स्तनपान मां (breastfeeding mother) को हृदयरोग , कैंसर और डायबिटीज जैसी कई बीमारियों से बचाता है ,पहला दूध इम्युनिटी देता है , 6 सप्ताह बाद शिशु को मिलती है एंटीबॉडी ।

breastfeeding mother, माँ के लिए स्तनपान के लाभ, Benefits of breastfeeding for mother,
 स्तनपान मां को हृदयरोग , कैंसर और डायबिटीज जैसी कई बीमारियों से बचाता है 

स्तनपान मां को हृदयरोग , कैंसर और डायबिटीज जैसी कई बीमारियों से बचाता है 

नवजात शिशु के स्वास्थ्य और उसके जीवन को सुनिश्चित करने में मां का दूध सबसे ज्यादा प्रभावी है । डब्ल्यूएचओ के अनुसार मां के दूध से शिशु में एंटीबॉडी पैदा होती है जो बचपन की कई बीमारियों से बचाने में मदद करती है । स्तनपान से न केवल शिशु को फायदा होता बल्कि मां को भी इसके कई फायदे मिलते हैं ।

 ये भी पढ़े-  pregnancy mein गर्भवती महिला इन बातों का विशेषकर रखें ध्यान,बरते निम्न सावधानियाँ

स्तनपान से मां को फायदे स्तनपान कराने से मां को हृदयरोग का खतरा 10 % तक कम होता है । इसी तरह ब्रेस्ट कैंसर का खतरा 28 % , अर्थराइटिस का रिस्क 50 % तक कम होता है ।

रेस्परेटरी सिस्टम 

श्वसन संबंधी संक्रमण का खतरा तुलनात्मक रूप से 72 फीसदी तक कम होता है । निमोनिया , सीजनल सर्दी जुकाम का खतरा कम रहता है । 

आईक्यू 

इसमें कोलेस्ट्रॉल व अन्य फैट कम होते हैं । नर्व टिशू का विकास अच्छा होता है । ऐसे बच्चों में आईक्यू लेवल 2 से 5 प्वाइंट अधिक होता है । 

जिसके कारण उनका हृदय और भी बेहतर तरीके से काम करता है ।

मां का दूध 1 साल के बालक को यूँ देता है सुरक्षा 

माँ का दूध नये जन्मे नवजात शिशु को इम्यूनिटी और प्रोटेक्शन प्रदान करता है। 

6 सप्ताह बादः एंटीबॉडी मिलती है । 

3 माह बादः कैलोरी बहुत बढ़ जाती है ।

6 माह बादः दूध में ओमेगा एसिड बढ़ जाता है । इससे बच्चे का दिमाग तेजी से विकसित होता है ।

12 माह बाद: कैलोरी और ओमेगा एसिड उच्च स्तर पर होता है , जो मांसपेशियों और दिमाग के विकास में सहायता करते हैं ।

Thanks for visiting Khabar daily update. For more हैल्थ, click here.

Rate this article

एक टिप्पणी भेजें