Search Suggest

Health Tips : कच्ची सब्जी खाएं और सेहत बनाए

Healthy habits: खानपान में बदलाव आने के साथ - साथ हमारे खाना पकाने के तरीक़े में भी बदलाव आया है । किंतु इन नए तरीक़ों के कारण पोषण भी खोता जा रहा है
कच्चा खाओ सेहत बनाओ, Eat raw vegetables and maintain health in hindi, health Tips in Hindi,

Health Tips : कच्ची सब्जी खाएं और सेहत बनाए

Healthy Habits: खानपान में बदलाव आने के साथ - साथ हमारे खाना पकाने के तरीक़े में भी बदलाव आया है । किंतु इन नए तरीक़ों के कारण पोषण भी खोता जा रहा है । लिहाज़ा भोजन ऐसे पकाएं कि स्वाद बरकरार रहे और पोषण भी । कच्चा खाएं सेहत बनाएं 

भारतीय भोजन में तरह - तरह की सब्जियों का उपयोग होता है । टमाटर , पालक , लौकी जैसी सब्जियां पोषण का खजाना हैं , वहीं हरा धनिया और कढ़ी पत्ता अपने आप में औषधि हैं । किंतु जब हम कोई सब्शी बनाते हैं तो सब्जियों को इतना भून देते हैं या तड़का लगा देते हैं कि उनका पोषण ख़त्म हो जाता है । 

यदि इन्हें कम भूना जाए या ऊपर से डालकर पकाया जाए तो इनका पोषण बरकरार रखा जा सकता है । इससे स्वाद में कोई फ़र्क नहीं आएगा और न ही सब्जी की रंगत पर ।

टमाटर 

टमाटर को दाल व सब्जियों में डाला जाना आम है , पर जैसे ही टमाटर को पकाते हैं वैसे ही उसमें पाया जाने वाला पोटैशियम और विटामिन - सी लगभग नष्ट हो जाते हैं । इसलिए टमाटर को कच्चा ही खाना चाहिए । अगर दाल में डालना है तो इसे बारीक - बारीक काटकर ऊपर से डाल सकते हैं । इसके अलावा कच्चे टमाटर का सेवन भेलपूरी , चना जोर गरम आदि में डालकर भी कर सकते हैं ।

 
कच्चा पालक खाने के फायदे

पालक 

आयरन की कमी होने पर डॉक्टर पालक की सब्ज़ी खाने की सलाह देते हैं । 100 ग्राम पालक में 91 प्रतिशत पानी और 3 ग्राम तक प्रोटीन होता है । पालक में विटामिन सी , विटामिन - के , कैल्शियम , फाइबर और ओमेगा -3 भी पाया जाता है । जिन परिवारों में सी - फूड ( मांसाहारी भोजन ) नहीं खाया जाता है उनके लिए पालक का सेवन अत्यंत लाभकारी है । पालक को पकाकर खाने पर उसमें मौजूद प्राकृतिक जल नष्ट हो जाता है । ' 

पकाने के स्थान पर पालक को स्वच्छ पानी में उबालकर कच्चा खाएं या फिर हल्का - सा उबालकर या कच्चा ही दाल में बारीक काटकर डालें । इससे दाल का स्वाद बढ़ जाएगा व पालक की पौष्टिकता बनी रहेगी ।

कुंदरू 

कुंदरू में मधुमेह को नियंत्रित करने के गुण पाए जाते .मोटापे की समस्या को दूर करने में लाभकारी होते हैं । जिस तरह खीरे को कच्चा ही खाते हैं , उसी तरह कुंदरू को भी सलाद के रूप में अपनी दिनचर्या में जोड़ सकते हैं । इसके अलावा पुदीना , शिमला मिर्च , अंकुरित अनाज आदि का भी सेवन कच्चे रूप में ही किया जा सकता है । इनका सलाद के रूप में सेवन कर रहे हैं तो ऊपर से नींबू , हरी मिर्च , हरा धनिया और प्याज मिला सकते हैं । 

स्वाटिष्ट कच्चा पनीर 

ग्रेवी , मसाला , तला हुआ पनीर सब्जी का स्वाद बढ़ाता है । अगर पनीर को ग्रेवी में तला हुआ न डालकर कच्चा ही डालते हैं तो उसमें मौजूद प्रोटीन पूरी मात्रा में मिलते हैं । कच्चे पनीर पर थोड़ा - सा काला नमक , काली मिर्च पाउडर व चाट मसाला डालकर भी खा सकते हैं । इससे स्वाद के साथ पोषण भी बरकरार रहता है । इसके अलावा किसी भी सूखी सब्जी के ऊपरं पनीर कीस कर डाल सकते हैं । 

Note: ध्यान रहे ... किसी तरह की स्वास्थ्य समस्या हो तो कच्चा भोजन करने से पहले डॉक्टर की सलाह अवश्य ले लें ।

Rate this article

एक टिप्पणी भेजें