Type Here to Get Search Results !

रिश्ते-नाते : पति-पत्नी के बीच नोकझोंक बढ़ी तकरार ना बन जाए

Relationship Dispute between Husband and Wife Quarrel: पति-पत्नी के बीच नोकझोंक वह झगड़े होना बहुत सामान्य बात है। लेकिन इनकी भी एक सीमा ,एक मियाद तक होना जरूरी है। हंसी-हंसी में कहीं कोई गांठ अनु खुली नारा जाए।

रिश्ते-नाते : पति-पत्नी के बीच नोकझोंक बढ़ी तकरार ना बन जाए
रिश्ते-नाते : पति-पत्नी के बीच नोकझोंक बढ़ी तकरार ना बन जाए

कभी रूठना ,फिर मनाना,गुस्से में खाना ना खाना, फिर मनुहार के बाद खा लेना, नाराजगी दूर करने के लिए तोहफे देना लेना - दांपत्य की छोटी मोटी नोक-झोंक भी होती रहती है। पर कुछ झगड़े बने रह जाए, तो गहरी दरार को अंजाम दे सकते हैं ।क्या हो सकते हैं इनके कारण और उन्हें दूर करने की सलाह ,आइए जानते हैं-रिश्ते-नाते : पति-पत्नी के बीच नोकझोंक बढ़ी तकरार ना बन जाए-

 यह भी पढ़िए -  after marriage life in Hindi: जब फर्क दिखे निगाहों में

रिश्ते-नाते : पति-पत्नी के बीच नोकझोंक बढ़ी तकरार ना बन जाए

प्राथमिकता ना समझना

आज के व्यस्त जीवन में झगड़े तब बढ़ जाते हैं जब पिछली नोकझोंक की उलझनों को सुलझाने का समय निकाला ही ना जा रहा हो । नतीजा छोटी सी नोक-झोंक लंबे समय तक स्थिति चली जाती है जिसके कई बार गंभीर परिणाम सामने आते हैं। इसीलिए कहा सुना तुरंत ही स्पष्ट और माफ कर करा लेना बेहतर होता है।

सलाह: उलझनों को समय रहते सुलझा लें कड़वाहट ना बढ़ने दें

तनाव को बढ़ावा देना

झगड़े के बाद Husband-Wife का आपस में बात ना करना,गुस्से में खाना ना खाना ,सामान्य प्रतिक्रिया है । इनका भी जल्दी निराकरण जरूरी है क्योंकि नाराजगी में बात ना करने ,भूखे रह जाने को सामान्य तौर पर लेने लगना ,दांपत्य जीवन में मुश्किलें पैदा कर सकता है । जिस की अवहेलना होगी वह इंसान कुंठित होगा कई बार तो Tensionऔर Depression भी होता है।

सलाह: किसी की नाराजगी की अवहेलना ना करें एक दूसरे को समझे और ताल मेलबनाए

 यह भी पढ़िए - pregnancy mein गर्भवती महिला इन बातों का विशेषकर रखें ध्यान,बरते निम्न सावधानियाँ

जब अहं हो रिश्ते से

Ego Rrelationships को बिगाड़ने की बड़ी वजह होता है। अहम की लड़ाई कभी खत्म नहीं होती। इसीलिए ध्यान रखें कि जहां प्यार होता है वहां माफी मांगने से छोटे नहीं होते और माफ करना भी आसान होता है । माफी मांगना हर झगड़े को खत्म कर देता है।

सलाह:अहं कोई जगह ना दें

दूसरों को दखल देने की आजादी

Privacy और आपसी समझ पति पत्नी के रिश्ते के आधार स्तंभ है। एक दूसरे के भावों को समझना और जीवन के गाड़ी को अपने अनुरूप चलाने के लिए निकिता होना बहुत जरूरी है। पर यदि किसी और का इसमें दखल ज्यादा हो तो समस्या बढ़ जाती है।

सलाह:रिश्ते में तीसरे को आने दे

छोटे-छोटे झूठों का प्रवेश

Trust दांपत्य जीवन की जड़ है । यदि विश्वास है तो ही रिश्तो में मिठास है ।अमूमन छोटे-मोटे झूठ अनदेखे कर दिए जाते हैं।पर जो इनकी आदत पद जाए ,तो यही छोटे झूठ बड़े धोखों का आधार बनकर रिश्तों में कड़वाहट पैदा कर देते है। जिसके कारण अमूमन इस बंधन की टूटने की नौबत आजाती है। 

सलाह: विश्वास को कभी टूटने ना दें

एक दूसरे का मान ना करना

झगड़े तब और बढ़ जाते हैं जब रिश्ते में इज्जत ना हो । या यह भी कहा जा सकता है कि कई बार एक दूसरे की बेइज्जती करना ही नोकझोंक का कारण होता है। भावों का अपमान बहुत गहरा घाव बना देता है।  एक दूसरे के प्रयासों को ,एक दूसरे की प्रवाह को, एक दूसरे की प्यार को ,या कार्यों को अनदेखा करना भी अनादर हो सकता है।  जैसे दोस्तों के सामने रिश्तेदारों के सामने अपने साथी का मजाक उड़ाना उसके द्वारा किए कामों का मजाक उड़ाना आदि । 

सलाह: एक दूसरे को इज्जत दे

खुद की सूझबूझ से काम न लेना

पति पत्नी के रूप में अपने कर्तव्य का निर्वहन खुद करें । वह आने वाली समस्याओं को खुद सुलझाने का प्रयास करें । उदाहरण के लिए पति-पत्नी का नोकझोंक झगड़ों को दोस्तों के सामने व्यक्त करना वह दोस्तों से सलाह मांगना गलत है । 

सलाह:अपनी जिम्मेदारियों को समझें

प्यार और प्रवाह की कमी

जिंदगी की दौड़ भाग और यंत्रवत जीवन ने रिश्तो से सुषमा छीन ली है, ऐसे रिश्तो में प्यार वह एक दूसरे की परवाह की कोई जगह नहीं होती।  इससे धीरे-धीरे घुटन बढ़ती जाती है जो कुछ समय बाद बड़े झगड़ों को जन्म देती है सलाह- प्यार दे प्रवाह करें। 

Thanks for visiting  Khabar daily update. For more लाइफस्टाइल, click here


एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad

Hollywood Movies