नतीजों से ज्यादा प्रक्रिया में खुशी का मंत्र बता रहे हैं अभिनव बिंद्रा

खुशी का पॉडकास्ट(Khushi ka podcast): नतीजों से ज्यादा प्रक्रिया में खुशी का मंत्र बता रहे हैं अभिनव बिंद्रा,खुशी का पॉडकास्ट(Khushi ka podcast): नतीजो

अभिनव बिंद्रा १० मीटर एयर रायफल स्पर्धा में भारत के एक प्रमुख निशानेबाज रहे हैं। बीजिंग ओलंपिक में स्‍वर्ण पदक जीतने वाले पहले भारतीय खिलाड़ी बन कर भारत का नाम रोशन किया था। अभिनव बिंद्रा एयर राफल निशानेबाजी में वर्ष २००६ में विश्व चैम्पियन भी रह चुके हैं। आइये जानते है अभिनव बिंद्रा के एक मैगजीन को दिए गए इंटरव्यू कुछ खास मन्त्र जिसका आत्मसार करके आप अपने जीवन में अपने लक्ष्य को प्राप्त कर सकते है- नतीजों से ज्यादा प्रक्रिया में खुशी का मंत्र बता रहे हैं अभिनव बिंद्रा 

Abhinav Bindra , podcast , Khushi ka podcast, podcast hindi stories

Read More: सुंदर पिचाई,उम्मीद के साथ जीते हुए खुशी पाने के तरीके बता रहे हैं

Abhinav Bindra Motivational Speech

हमारा जितना जोर अच्छे एथलीट विकसित करने पर होना चाहिए, उतना ही जोर अच्छा इंसान बनाने पर भी हो। जब भी आपको अपनी क्षमता पर शंका हो, तो सबसे पहले उसे स्वीकार करें। अपनी भावनाओं से बचें नहीं। जैसे ही आप ऐसा करते हैं, तो इसपर काम करते हैं, सफलता और खुशी पाते हैं। खुशी व सफलता के बारे में ऐसी ही बातें 2008 ओलिंपिक्स में भारत के लिए गोल्ड मेडल लाने वाले शूटर अभिनव बिंद्रा ने फोर्ब्स मैग्जीन के साथ साझा की।

प्रयास ही मायने रखते हैं 

हर रोज लक्ष्य पर काम करना, नतीजों से कहीं ज्यादा जरूरी होता है। हमारी सफलता हमारी यात्रा के बारे में है। हम सभी अच्छे नतीजों के पीछे हैं, लेकिन वे शायद हासिल हों या न हों, क्योंकि वे काफी चीजों पर निर्भर हैं। इसलिए आपके प्रयास ही मायने रखते हैं। 

Read More: 

अभिनव बिंद्रा रुपए - पैसे आपकी मदद करते हैं ,पर चैंपियन नहीं बनाते

VVS Laxman: अपना कंफर्ट जोन तोड़कर बाहर आना उतना भी मुश्किल नहीं है

बीते दिन से बेहतर बनें 

हमारी परिस्थितियां हमारे नियंत्रण में नहीं होतीं, लेकिन हमारी क्षमताओं पर हमारा नियंत्रण होता है। इसलिए अपना सर्वश्रेष्ठ देने का प्रयास करें, बीते दिन से बेहतर बनने का प्रयास करते रहें।

पर्फेक्ट प्रक्रिया से मनचाहे नतीजे 

जब आप नतीजों से ज्यादा ध्यान प्रक्रिया पर देते हैं तो लोगों की उम्मीदों को दबाव कम हो जाता है। फिर आप पर्फेक्ट होने पर ज्यादा ध्यान देते हैं। और जब प्रक्रिया पर्फेक्ट हो जाती है, तो आमतौर पर वही नतीजे मिलते हैं, जो आप चाहते हैं। 

आत्मसम्मान का रखें ख्याल 

खुद का आत्मसम्मान बनाए रखने के लिए बहुत मेहनत करना और खुद के प्रति ईमानदार रहना जरूरी है। हर शाम अपने आपसे यह कठिन सवाल जरूर पूछे कि क्या आपने अपना सर्वश्रेष्ठ दिया है?

Thanks for Visiting Khabar Daily Update for More Motivational Thoughts Click Here .

Rate this article

एक टिप्पणी भेजें