Type Here to Get Search Results !

Anubhav Dubey biography in Hindi | Anubhav Dubey | Chai Sutta Bar |

Anubhav Dubey biography in Hindi:  anubhav dubey की कहानी धैर्य और दृढ़ संकल्प से भरी हुई है । और हमें सिखाती है कि हम अपने जीवन में जो करना चाहते हैं, उसे कभी न खोएं।

चाय सुट्टा बार(Chai Sutta Bar ) अनुभव दुबे और उनके दोस्त आनंद नायक की Succes and Inspirational Story है, कि कैसे Chai Sutta Bar से साढ़े  साल में तीन लाख  से 100 करोड़ तक के बिजनेस को स्टार्ट किया 

तो आइए जानते हैं Chai Sutta Bar के Co-Founder  अभिनव दुबे के boigraphy के बारे में और कैसे उन्होंने अपना इस बिजनेस को खड़ा किया -

Anubhav Dubey biography in Hindi | Anubhav Dubey | Chai Sutta Bar |

Chai Sutta Bar, Chai Sutta Bar के Co-Founder,anubhav bubey,चाय सुट्टा बार अनुभव दुबे

अनुभव कहते हैं, आपको बस व्यवसाय बनाने के लिए लोगों की मांग(demand) और बाजार में अंत(diffierence) की पहचान करने की आवश्यकता है। 

 हम प्रभावी संचार कौशल के द्वारा ऐसे बहु मिलियन विचारों की पहचान कर सकते हैं। उनके जैसे व्यवसाय(business) के निर्माण के लिए पहला कदम उठाएं। 

यह भी पढ़े :-   MBA chai wala Prafull billore biography

दिल्ली में यूपीएससी की तैयारी करने से लेकर कोचिंग संस्थान छोड़ने तक, अनुभव अपने दोस्त के साथ अपना खुद का खाद्य व्यवसाय शुरू करने के विचार से रुका हुआ था। 

 बाद में, अनुभव ने अपने उद्यमी( Entrepreneur)की यात्रा शुरू करने के लिए अपने माता-पिता को बताए बिना सिर्फ 3 लाख रुपये के साथ एक छोटा सा कैफे खोलने का संकल्प लिया। 

anubhav dubey age, anubhav dubey biography

Anubhav Dubey biography in Hindi

Introduction -

अनुभव मध्य प्रदेश के रीवा शहर के रहने वाले हैं और एक सामान्य मिडिल क्लास परिवार से बिलॉन्ग करते हैं अनुभव की प्रारंभिक शिक्षा 8वीं तक महर्षि विद्या मंदिर से पूरी हुई, और आगे की पढ़ाई के लिए इंदौर चले गए जहां उनकी मुलाकात आनंद नायक से हुई, और यहीं से शुरू हुई इनके दिमाग में बिजनेस आईडियाज।

यह भी पढ़े :-  Karan-dua-dil-se-foodie-biography-in-Hindi-and-success-life-story-of-Dil-se-foodie

Early life  

अनुभव बताते हैं कि, हम सब दोस्तों के पास जो पॉकेट मनी होती थी, उसे इकठ्ठा करके  वह इंदौर के एक  सेकंड हैंड मार्केट से मोबाइल ख़रीदते थे ।

और कुछ टाइम उस मोबाइल को खुद और दोस्तों को यूज करने के बाद दोबारा सेल कर देते थे और उससे प्रॉफिट कमाते थे, और यहीं से उनके दिमाग में अपना खुद का बिजनेस करने का आईडिया आया। 

chai sutta bar, anubhav dubey date of birth,Chai Sutta Bar

शुरुआत में आनंद ने किसी बड़े ब्रांड जैसे मैकडॉनल्ड की फ्रेंचाइजी लेकर अपना बिजनेस स्टार्ट करने की बात कही परंतु अनुभव ने कहा कि क्यों किसी की फ्रेंचाइजी ले अपना खुद का ब्रांड बनाएंगे उसे success करेगें और उसे पूरी दुनिया तक तक पहुंचाएंगे-

यह भी पढ़े :-  Satish Kushwaha Biography in Hindi | youtuber Satish k Videos

Life-changing impulsive decision

अनुभव अपना खुद का बिजनेस करना चाहते थे परंतु उनके घरवाले चाहते थे कि वह यूपीएससी की तैयारी करें इसीलिए वह 12वीं की तैयारी पूरी करने के बाद यूपीएससी की तैयारी के लिए दिल्ली चले गए। 

एक दिन उन्हें उनके दोस्त आनंद नागर ने फोन किया और और कहा कि अपना धंधा(business) करते हैं और धंधा भी अपना चाय का, अनुभव ने घरवालों को बिना बताए हुए दिल्ली से सीधा इंदौर निकल गए।

Anubhav  biography in Hindi| Anubhav Dubey | Chai Sutta Bar |

Why Chai Sutta?  

अनुभव बताते है कि काम तो चाय का करना था परंतु कहां शुरू करना है और कैसे शुरू करना है इसकी कोई प्लानिंग नहीं थी। 

वे इधर-उधर घूम कर जगह तलाश करते अपनी दुकान का नाम सोचते और यहीं से उन्हें आइडिया आया कि क्यों ना दुकान का नाम chai sutta bar रखा जाए, जो एक यूनिक नाम है और हर किसी कस्टमर के दिमाग में छा जाए।

यह भी पढ़े :- Manoj Saru (Technology Gyan) Biography in Hindi wiki, age,&more

दुकान का एक यूनिक नाम तो सेलेक्ट कर लिया परंतु दुकान के लिए लोकेशन और दुकान की डेकोरेशन और उसकी मार्केटिंग किस तरह कैसे की जाए इसके लिए उन्होंने अपने दोस्तों की मदद ली।

The beautiful journey start 

चाय सुट्टा बार के लिए जो सबसे पहले लोकेशन सिलेक्ट की गई की गई वह एक गर्ल्स हॉस्टल के सामने थी, इस लोकेशन के पीछे की सबसे बड़ी वजह थी गर्ल्स हॉस्टल के बाहर की भीड़। 

दुकान को मॉडिफाई लुक दिया गया म्यूजिक सिस्टम लगाया गया और बार जैसा लुक दिया गया जिससे लोगों की भीड़(Crowd)  खासकर युवा पीढ़ी( Young Generation)  उनकी ओर खींची( Attract)  चले आये।

नई दुकान थी पहला दिन था और प्लानिंग थी कि पहले दिन फ्री में चाय दी जाएगी क्योंकि शुरुआत में कस्टमर तो बनाने थे, परंतु बात नहीं बनी, दुकान के मार्केटिंग करने के लिए जेब में था पैसा नहीं था कि जिससे वह  मार्केटिंग कर सके, परंतु मार्केटिंग तो करनी थी तो दिमाग में आइडिया आया।

शुरुआत में उन्होंने अपने दोस्तों को अपनी दुकान में Invite करा गर्ल्स हॉस्टल बगल में होने के कारण दोस्त आते थे भीड़ होती थी तो पब्लिक और जोड़ती थी और इसी के साथ मार्केटिंग का एक नया आईडिया आया की वह भीड़ मैं किसी मॉल में जाते थे 

और चाय सुट्टा बार दुकान के बारे में आपस में चर्चा करते थे, लोग उनकी बात सुनते और उन्हें उनका यह कांसेप्ट अच्छा लगा जिससे धीरे-धीरे करके उनके दुकान में भीड़ जुटने लगी।

काम अच्छा चलने लगा लोग चाय सुट्टा बार को लोग जानने लगे लोगों को Concept पसंद आने लगा, जिससे अन्य लोगों को भी रोजगार मिला उनकी मेहनत रंग लाई और मात्र 6 महीने की कड़ी मेहनत से उन्होंने अपनी 4 फ्रेंचाइजी दुकान खोली

anubhav dubey biography,anubhav dubey wikipedia,

यहां तक तो ठीक था परंतु एक दिन नई दुकान ओपनिंग पर अनुभव फेसबुक लाइक थे जिसे उनके किसी रिश्तेदार ने देखा और उनके पापा को कहा कि तुम्हारा लड़का चाय बेच रहा है अनुभव ने घर में बात बताई नहीं थी, क्योंकि घर वालों की नजर में अनुभव दिल्ली में यूपीएससी की तैयारी कर रहा था।

धीरे-धीरे करके उनका काम अच्छा चलने लगा उनके काफी सारी फ्रेंचाइजी देश में बिकने लगी न्यूज़ पेपरों में न्यूज़ चैनलों में उनके बारे में आना लगा, और अनुभव के नाम से उनके घर वालों को लोग जाने लगे जिससे उनके घर वालों ने भी उनका सपोर्ट करना शुरू किया।

साढ़े चार साल ( 4 and half years) के इस सफर में चाय सुट्टा बार के 165 से ज्यादा आउटलेट हैं,

और साथ ही 1500 से ज्यादा employers भी, न सिर्फ भारत में बल्कि दुबई, मस्कट ,ओमान, नेपाल में chai Sutta Bar की फ्रेंचाइजी है और इसके अलावा अभी वह कनाडा और यूएसए में भी फ्रेंचाइजी खोलने वाले हैं

1 दिन में तीन लाख से ज्यादा कुल्लड़ चाय बेचते हैं जिससे कि 300 से ज्यादा परिवारों को रोज़गार मिला है। और देश नहीं दुनिया भर में जहां उनकी फ्रेंचाइजी है वहां पर कुल्लड़ चाय ही बेची जाती है, 

साडे 4 साल, तीन लाख से शुरुआत और आज वह 100 करोड़ से ऊपर का बिजनेस कर रहे हैं।क्या सिर्फ चाय बेचकर आप करोड़ों कमा सकते हैं? 

जरा सोचिए कि आप चाय वाला बनकर ऐसा कर सकते हैं? यदि आप एक व्यवसाय शुरू करने, अपने व्यवसाय को बढ़ाने या अपने व्यवसाय का विस्तार करने के लिए एक विचार की तलाश कर रहे हैं, 

तो अनुभव दुबे बार' जिसे लोकप्रिय रूप से Chai Sutta Bar द्वारा जाना जाता है, आपको आपकी ज़रूरत के सभी व्यवसाय प्रेरणा देगा। 

क्या आपके पास कभी कोई व्यवसायिक विचार था जो आपने सोचा था कि आपका जीवन बदल सकता है? कभी आपने सोचा है कि सिर्फ चाय बेचकर आप करोड़ों कमा सकते हैं? अनुभव इस बात का जीता जागता उदाहरण है कि कैसे आप चायवाला बनकर करोड़ों रुपये कमा सकते हैं।

 Note- नए उद्यमी (Entrepreneur) को अनुभव कहते हैं-आप अपना खुद का बिजनेस स्टार्ट करना चाहते हैं तो आपको अपनी लाइफ में डिसीजन लेना बहुत जरूरी है, इसलिए Take risk and do it right now  

Thanks for visiting Khabar daily update. For more मोटिवेशनस्टोरी, click here.










एक टिप्पणी भेजें

0 टिप्पणियाँ
* Please Don't Spam Here. All the Comments are Reviewed by Admin.

Top Post Ad

Below Post Ad

Hollywood Movies